मोदी और इवाका ट्रम्प ने की एक दूसरे की तारीफ

मोदी और इवाका ट्रम्प ने की एक दूसरे की तारीफ

ग्लोबल इंटरप्रयोनरशिप सम्मिट 2017 का हासिल

 

नई दिल्ली! अमरीकी सदर डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी इवाकां की कोई सरकारी हैसियत नहीं खुद ट्रम्प इंतजामिया की हालत यह है कि अमरीका के फारेन मिनिस्टर रेक्स टेलर्सन ने उनके साथ फारेन मिनिस्ट्री के किसी सीनियर अफसर को हिन्दुस्तान नहीं आने दिया इसके बावजूद वजीर-ए-आजम नरेन्द्र मोदी ने उन्हीं इवाका के लिए हैदराबाद में पलक पावड़े बिछाए। मोदी ने दुनिया की सबसे बड़ी जम्हूरियत हिन्दुस्तान के वजीर-ए-आजम के ओहदे का वकार कम किया ही अजीम हिन्दुस्तान की तौहीन करने का भी काम किया है। इवाका हैदराबाद मे ग्लोबल इंटरप्रयोनरशिप समिट 2017 में शिरकत के लिए आई थी। इस समिट में 127 मुल्कों के बारह सौ से ज्यादा उभरते नौजवान कारोबारी खुसूसन ख्वातीन भी शरीक थीं लेकिन मोदी ने सिर्फ इवाका को ही अहमियत दी। इस मौके पर मोदी ने इवाका और उनके वालिद डोनाल्ड ट्रम्प की खूब तारीफ की तो जवाब में इवाका ने मोदी के इस बडे़ झूट पर कि बचपन में वह चाय बेचते थे मोहर लगाते हुए कहा कि चाय बेचकर वह वजीर-ए-आजम के ओहदे तक पहुच गए यह उनके हौसले की मिसाल है। उन्होने जो कुछ हासिल किया है वह बेमिसाल हैै।

हिन्दुस्तान में पहली बार होने वाली ग्लोबल इंटरप्रयोनरशिप समिट 2017 का इफ्तेताह करते हुए वजीर-ए-आजम नरेन्द्र मोदी ने अट्ठाइस नवम्बर को दुनिया भरके कारोबारियों से हिन्दुस्तान में सरमायाकारी की अपील की। उन्होने कहा कि उनकी सरकार ने सरमायाकारी के लिए मुवाफिक माहौल बनाने की खातिर मुल्क में टैक्स और दीगर कई इस्लाहात किए हैं। मोदी ने कहा कि उनकी सरकार शफ्फाफ पालीसियों और यकसां कानून की अहमियत को बखूबी समझती है। तीन रोजा ग्लोबल इंटरप्रयोनरशिप समिट 2017 को खिताब करते हुए वजीर-ए-आजम नरेन्द्र मोदी ने कहा कि बारह सौ से ज्यादा पुराने पड़ चुके कानून को खत्म कर दिया गया है। इक्कीस शोबों मे गैर मुल्की सरमायाकारी को आसान बनाया गया है और कई तरीका ए अमल को आनलाइन किया है। इस मौके पर नोटबंदी को अपनी सरकार की बड़ी कामयाबी के तौर पर जिक्र करते हुए कहा कि मुतवाजी मईशत, टैक्स चोरी और काले धन पर काबू पाने के लिए इकदामात किए गए है। उनकी सरकार की कोशिशों का ही नतीजा है कि आलमी बैंक की मईज आफ डूइंग बिजनेस रिपोर्टफ में हिन्दुस्तान पिछले तीन साल में 142वें पायदान से सौवें पायदान पर पहुच गया है। मूडीज ने भी हिन्दुस्तान की रेटिंग को अपग्रेड किया है। अपनी सरकार के मआशी इस्लाहात (आर्थिक सुधारों) का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि जीएसटी की शुरूआत के साथ ही टैक्स निजाम में बड़े पैमाने पर इस्लाहात किए गए हैं। उन्होने कहा कि इसके अलावा इनसाल्वेसी एण्ड बैंक रैपो कोड बताया गया है ताकि बैंकों के फंसे कर्जाे के मसायल से वक्त रहते निपटा जा सके। इस दौरान उन्होेेंने आधार और इसके जरिए डिजीटल लेनदेन और डायरेक्ट बेनीफिट ट्रांसफर स्कीम, जनधन, मूद्रा, सौभाग्य, अटल इनोवेशन मिशन और नेशनल गैस ग्रिड जैसी स्कीमों का भी जिक्र किया। नरेन्द्र मोदी ने मुल्क के नौजवान कारोबारियों से अपील करते हुए कहा कि उनमें हर कोई 2022 तक नया हिन्दुस्तान बनाने में तआवुन दे सकता है। उन्होनेे दुनिया भर के कारोबारियों से कहा कि वह हिन्दुस्तान आएं हिन्दुस्तान में ही बताएं और भारत व दुनिया के लिए हिन्दुस्तान में सरमायाकारी करें। समिट की थीम मवीमन फस्र्ट, प्रास्पेरिटी फार आलफ पर बोलते हुए मोदी ने भारतीय पौराणिक कथाओं में कानून को ताकत का अवतार कहा गया है। हम मानते हैं कि महिला सशक्तिकरण हमारी तरक्की के लिए अहमियत का हामिल है। उन्होने कहा कि हिन्दुस्तानी ख्वातीन ने मुख्तलिफ शोबों में काबिले जिक्र तआवुन किया है। हिन्दुस्तान के सबसे पुराने चार हाई कोेर्टाे की चीफ ख्वातीन हैं। मोदी ने बी पी सिंधू, साइना नेहवाल और सानिया मिर्जा जैसी ख्वातीन खिलाड़ियों के खुसूसी तौर पर नाम गिनाए क्योंकि इन ख्वातीन ने मुल्क के वकार में इजाफा किया।

अमरीकी सदर डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी इवाका ने इस मौके पर अपने खिताब में पहले तो वजीर-ए-आजम नरेन्द्र मोदी की जमकर तारीफ की फिर उन्हें व्हाइट हाउस का सच्चा दोस्त भी बताया। उन्होने कहा कि मोदी जिस तरह हिन्दुस्तान को संवार रहे हैं वह काबिले तकलीद है। इसे जम्हूरियत की मशाल के तौर पर फरोग देने के साथ वह हिन्दुस्तान को दुनिया की उम्मीद के तौर पर खड़ा कर दिया है। इवाकां ने कहा कि मोदी ने जो हासिल किया है वह गैर मामूली है। इवाका ने समिट की थीम पर बोलते हुए कहा कि ख्वातीन की कयादत में चलने वाले कारोबारियों को फरोग दिया जाए तो दुनिया की जीडीपी में दो फीसद तक इजाफा हो सकता है। इवाका ने कहा कि तमाम सहूलतें मिलने के बाद भी आज ख्वातीन कोे सनअतें खड़ी करने और उसे चलाने में जबरदस्त परेशानियांे से दोचार होना पडता है। उन्होने कहा कि कारोबार में ख्वातीन मर्द के फर्क को खत्म करना बेहद जरूरी है। उन्होने कहा कि यह खुशी की बात है कि पन्द्रह सौ कारोबारों में से बड़ी तादाद में ख्वातीन शामिल हैं। उन्होने कहा कि हमें यह यकीनी बनाना होगा कि ख्वातीन कारोबारियों की पहुच पूजी के साथ नेटवर्क तक हो और उनके लिए यकसां कानून बने। ख्वातीन ही कारोबारी सतह पर जिन्सी फर्क को खत्म करने में अहम रोल अदा कर सकती हैं। उन्होने कहा कि अमरीका इस फर्क को दूर करने के लिए ही इस साल पांच हजार डालर का बजट बढाया है। स्कोर के जरिए अमरीका एक मुल्कगीर मुहिम चला रहा है जिसके तहत कामयाब ख्वातीन व मर्द कारोबारी उन्हें तर्बियत देंगे। ट्रम्प इंतजामिया आलमी सतह पर भी ख्वातीन को आगे बढाने के लिए काम कर रही है। 36 साल की इवाका डोनाल्ड ट्रम्प की सबसे बड़ी बेटी हैं मगर अपने बयानात और इंतजामिया मे बेजा दखल की वजह से अमरीकी मीडिया में तंकीद का निशाना बनती रही हैं तो अमरीकी फारेन मिनिस्टर रेक्स टेलर्सन से उनका छत्तीस का आंकड़ा चल रहा है। क्योंकि टेलर्सन को लगता है कि इवांका और उनके शौहर जेरडिक्शनर की वजह से उनके काम और सियासत में उन्हें अनदेखा किया जा रहा है। इस समिट में फारेन मिनिस्टर सुषमा स्वराज, निर्मला सीतारमण, सुरेश प्रभु के साथ तेलंगाना के वजीर-ए-आला चन्द्रशेखर राव ने भी हिस्सा लिया। लेकिन वजीर-ए-आजम नरेन्द्र मोदी ने प्रोटोकाल को नजर अंदाज करते हुए इवांका का खैरमकदम किया इसपर उनकी तंकीद हो रही है।