कुछ लोग देश को तोड़ना चाहते हैं- लालू यादव

कुछ लोग देश को तोड़ना चाहते हैं- लालू यादव

पटना! आरजेडी सदर लालू प्रसाद ने कहा कि कुछ लोग देश को तोड़ना चाहते हैं। मजहब और जात की बुनियाद  पर नस्ल और भेदभाव से समाज को तक्सीम करना चाहते हैं, लेकिन उन्हें कामयाब नहीं होने देना है। हमें एकजुट होकर रहना है। अब एक साल बाद लोकसभा एलक्शन की तैयारी शुरू हो जाएगी। 2014 में हम लोग (आरजेडी-जेडीयू-कांग्रेस) अलग

-अलग लड़े थे तो दूसरी पार्टी को इसका फायदा मिला था। अब हम लोग साथ हैं। अगर तीनों के वोटों को मिलाकर देखा जाए तो जीतने वाले कहीं नहीं टिकते।

लालू प्रसाद यादव ने उन लोगों पर भी तंज कसा है जो बिहार में महागठबधन को लेकर तरह तरह की बातें करते हैं। लालू ने कहा कि महागठबध्ंान एक चट्टान की तरह एत्तेहाद है। लोग कहते थे कि महागठबधन सरकार नहीं चलेगी। असम्बली एलक्शन के वक्त राष्ट्रीय जनता दल का वोट न जनता दल यूनाइटेड को मिलेगा, न जनता दल यूनाइटेड का वोट राष्ट्रीय जनता दल के लिए, लेकिन सब कुछ गलत साबित हुआ। महागठबधन के खिलाफ जितनी भी चोट की जाएगी महागठबंधन में उतना ही निखार आएगा। रामलखन सिंह यादव की जयंती तकरीब में राष्ट्रीय जनता दल के सदर ने कहा कि उनकी तरफ से कोई परेशानी नहीं है। महागठबधन की सरकार से पूरी जनता खुश है। सरकार इसी तरीके से काम करती रहेगी। उन्होंने वजीर-ए-आला नितीश कुमार की तारीफ करते हुए कहा कि जब से मेरे छोटे भाई नितीश से जो भी कडुवाहट थी उसे खत्म करके आए तो नितीश-लालू की जोड़ी का पैगाम गया है। हमारी ताकत के साथ कोई दूसरी ताकत मुकाबले कोे तैयार नहीं है। लोगों ने महागठबधन को भरोसा दिया है। हमें इस पर खरा उतरना है।

लालू प्रसाद ने कहा कि असम्बली एलक्शन के वक्त हमने नितीश कुमार को वजीर-ए-आला का उम्मीदवार बनाया। वह सरकार बनने के बाद रात दिन महागठबधन का जो कमिटमेंट है उसे पूरा कर रहे हैं। घरों तक पीने का पानी, बैतुलखला, सड़क, बिजली पहुंचाने का काम किया जा रहा है। उन्होंने रामलखन सिंह यादव के आदर्शों को अपनाने और उस पर चलने का एलान भी किया। लालू ने कहा कि हम लोग जिस सियासत में है इसमें रामलखन सिंह यादव का बड़ा रोल है।

Lead News