सामने आए स्वामी नित्यानंद की जिन्दगी के रंगीन पहलू

सामने आए स्वामी नित्यानंद की जिन्दगी के रंगीन पहलू

बंगलौर। सेक्स स्कैंडल में फंसे स्वामी नित्यानंद के खिलाफ कर्नाटक पुलिस की सीआईडी की तरफ से तैयार की गई चार्जशीट में स्वामी नित्यानंद की जिंदगी के कई रंगीन पहलू सामने आए हैं। चार सौ तीस पेज की चार्जशीट के मुताबिक स्वामी ने एक खातून भक्त को यह कहते हुए सेक्स के लिए राजी किया था कि वह शिव हैं और खातून पार्वती। स्वामी नित्यानंद ने खातून को राजी करते हुए यह भी कहा था कि वह एक मजहबी काम कर रहे हैं और इसमें कुछ भी गैर अखलाकी नहीं है। चार्जशीट में खातून का बयान भी दर्ज है जिस में कहा गया है कि स्वामी नित्यानंद ने मोक्ष पाने का लालच देकर उससे जिस्मानी ताल्लुकात बनाए।

वाजेह होकि कुछ महीने पहले दक्खिन भारत के टीवी चैनल सन न्यूज पर एक खुसूसी टेलीकास्ट में स्वामी का एक तमिल अदाकारा के साथ सेक्स वीडियो नश्र किया गया था। स्वामी नित्यानंद ने ध्यान लगाकार इलाज करने के निजाम पर एक तंजीम की भी शुरूआत की थी। इस तंजीम का मरकज बंगलौर में है। १९७८ को तमिलनाडू में पैदा हुए स्वामी नित्यानंद बचपन से ही योग तंत्र मंत्र का प्रचार कर रहे हैं। अब उनके सेक्स वीडियो के नश्र होने से उनके भक्तों में शदीद गुस्सा पाया जा रहा है। इस वीडियो में स्वामी नित्यानंद अदाकारा के साथ कमरे में हमविस्तर होते दिखाई दे रहे हैं। बंगलौर के राम नगर में चीफ ज्यूडीशियल मजिस्ट्रेट की अदालत में सत्ताइस नवम्बर को सीआईडी ने चार्जशीट दाखिल कर दी है। स्वामी नित्यानंद को कर्नाटक हाईकोर्ट से कोई राहत नहीं मिली थी। अदालत में स्वामी नित्यानंद की दरख्वास्त पर सुनवाई हुई। जिसमें उसने (स्वामी नित्यानंद) सीआईडी को हाईकोर्ट में चार्जशीट दायर करने से रोकने का मतालबा किया था लेकिन अदालत ने उस दरख्वास्त को मुस्तरद कर दिया। अदालत ने स्वामी की चार्जशीट की एक कापी उसे देने वाली दरख्वास्त को भी दरकिनार कर दिया। स्वामी नित्यानंद ने कर्नाटक हाईकोर्ट में एक अर्जी दाखिल करके कहा था कि सीआईडी पहले ही हाईकोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर चुकी है। इसलिए उसे हाईकोर्ट में फिरसे दाखिल करने से रोका जाए। लेकिन कोर्ट ने यह दरख्वास्त रद्द कर दी। स्वामी नित्यानंद ने खुद को शिव और जिन्सी ज्यादती की शिकार खातून को पार्वती कहा। चार्जशीट में स्वामी नित्यानंद की रंगीन जिंदगी के बारे में बताया गया। उसके मुताबिक २००६ में स्वामी ने अमरीका के लास वेगास शहर के सफर के दौरान कई नाइट क्लब, स्ट्रिप क्लबों की सैर की थी। इन यात्राओं के दौरान स्वामी जींस वगैरह पहनता था ताकि उसकी पहचान छुपी रह सके। साथ ही उसे लिप डांस बहुत पसंद था और जब वह ऐसे क्लब से लौटता था तब अपनी खातून भक्तों से उसी तरह के डांस करवाता था। स्वामी नित्यानंद पर यह भी इल्जाम है कि खातून भक्तों से न सिर्फ ऐसे डांस करवाता था बल्कि उनके साथ जबरदस्ती सेक्स भी करता था। इस मामले में जल्द ही मुकदमा शुरू हो सकता है। डीआईजी चरण रेड्डी ने कहा है कि सीआईडी हुक्काम ने नित्यानंद उर्फ राजशेखर को अस्मतदरी गैर फितरी जिंसी ताल्लुकात, द्दोकादेही, मुजरिमाना साजिश रचने जैसे संगीन इल्जाम लगाए हैं। अप्रैल में पुलिस हुक्काम के हाथ एक सीडी लगी थी जिसमें स्वामी को जानवरों से बने सामानों का इस्तेमाल करते हुए दिखाया गया था। उसमें हिरण, तेंदुआ और कुत्ते शामिल थे।

HIndi Latest